Sunday , April 21 2024

THDC के 1000 मेगावाट की टिहरी पीएसपी की दूसरी यूनिट ने हासिल की विशेष उपलब्धि

ऋषिकेश : टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड, विद्युत क्षेत्र के अग्रणी पीएसयू ने 1000 मेगावाट के टिहरी पंप स्टोरेज परियोजना की दूसरी यूनिट 250 मेगावाट वैरिएबल स्पीड पंप टरबाइन को सफलतापूर्वक बॉक्सिंग अप करके महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की। अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक,टीएचडीसीआईएल आर. के. विश्नोई ने इस उल्लेखनीय उपलब्धि के हासिल करने पर पीएसपी टीम को बधाई दी। साथ ही इस बात पर जोर दिया कि यह प्रमुख उपलब्धि राष्ट्र के प्रथम वैरिएबल स्पीड पंप स्टोरेज प्रोजेक्ट1000 मेगावाट की कमीशनिंग में महत्वपूर्ण कदम साबित होगा। विश्नोई ने टीएचडीसीआईएल की पीएसपी टीम के समर्पित प्रयासों की सराहना की और इस महान उपलब्धि को हासिल करने के लिए उनके सच्चे और ठोस प्रयासों के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि टीएचडीसी टीम हाइड्रो-सेक्टर में नए मानक स्थापित करने और चुनौतियों का सामना करते हुए लगातार लक्ष्य हासिल करने के लिए जानी जाती है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि टिहरी पीएसपी की परिकल्पना विद्युत प्रणाली की विश्वसनीयता बढ़ाने के लिए की गई है, यह 1000 मेगावाट की पीकिंग पावर उत्पन्न करेगा जो ऑफ-पीक घंटों के दौरान तापीय और नवीकरणीय विद्युत उत्पादन को संतुलन भार प्रदान करेगा। टिहरी बांध और कोटेश्वर बांध द्वारा निर्मित जलाशय पंप स्टोरेज संयंत्र के लिए अपस्ट्रीम और डाउनस्ट्रीम जलाशय के रूप में कार्य करेंगे। यह संयंत्र बड़े पैमाने पर पीक लोड और संतुलन आवश्यकताओं को पूरा करके स्थिरीकरण में योगदान देगा। उपरोक्त के अलावा, टिहरी पीएसपी टीम ने 1000 मेगावाट की टिहरी पंप स्टोरेज परियोजना की फाइनल यूनिट 250 मेगावाट वैरिएबल स्पीड पंप टर्बाइन के रनर को सफलतापूर्वक लोवरिंग करके एक और विशेष उपलब्धि हासिल की।