Sunday , April 21 2024

नन्हें-मुन्हें छात्रों के सर्वांगीण विकास में अत्यन्त मददगार है अल्फा योजना : निधि पटेल

एडीशनल डेप्युटी कमिश्नर, बिलासपुर ने शिक्षक प्रशिक्षण कार्यशाला का किया उद्घाटन

लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल के तत्वावधान में दो दिवसीय ‘शिक्षक प्रशिक्षण कार्यशाला’ का भव्य उद्घाटन आज सी.एम.एस. गोमती नगर द्वितीय कैम्पस ऑडिटोरियम में हुआ। मुख्य अतिथि डा. निधि पटेल, आईएएस, एडीशनल डेप्युटी कमिश्नर एवं ए.डी.एम., बिलासपुर, हिमाचल प्रदेश ने कार्यशाला का उद्घाटन किया। कार्यशाला का उद्देश्य मान्टेसरी से लेकर कक्षा 2 तक के नन्हें-मुन्हें छात्रों की सीखने की प्रक्रिया (अल्फा – एक्सीलरेट लर्निंग फॉर ऑल) को बढ़ावा देने हेतु शिक्षकों को प्रशिक्षित करना है। इस कार्यशाला में अयोध्या, कानपुर, लखनऊ, बाराबंकी आदि विभिन्न जनपदों को प्रतिष्ठित विद्यालयों से 600 से अधिक शिक्षक बड़ी रूचि व उत्साह से प्रतिभाग कर रहे हैं।

कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए मुख्य अतिथि डा. निधि पटेल, आई.ए.एस. ने कहा कि यह अल्फा परियोजना अपने आप में अत्यन्त महत्वपूर्ण है, जो नन्हें-मुन्हें में छात्रों के सर्वांगीण विकास में अत्यन्त मददगार है। हिमाचल प्रदेश सरकार ने इस अल्फा परियोजना को अपनाया है एवं वर्तमान में हिमाचल प्रदेश के प्राइमरी कक्षाओं के लगभग 1,40,000 बच्चे इससे लाभान्वित हो रहे हैं। यह परियोजना बच्चों के लिए बहुत ही रोचक, व्यावहारिक और समय की मांग है

इस अवसर पर सीएमएस संस्थापिका-निदेशिका एवं प्रख्यात शिक्षाविद् डा.भारती गांधी ने कहा कि अल्फा परियोजना बच्चों के लिए उत्साह, प्रेरणा और आत्म-भागीदारी से भरपूर व अत्यन्त रोचक है। इसकी सहायता से बच्चों की शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ेगी साथ ही कम समय में बच्चों के हिन्दी व गणित ज्ञान में भरपूर बढ़ोत्तरी होगी।विदित हो कि अल्फा परियोजना का शुभारम्भ सिटी इंटरनेशनल स्कूल की संस्थापिका डा.सुनीता गांधी के मार्गदर्शन में वर्ष 2022 में हुआ था तथापि इसका पायलट प्रोजेक्ट सीएमएस गोमती नगर द्वितीय कैम्पस एवं सीएमएस अलीगंज द्वितीय कैम्पस में शुरू किया गया था, जिसका सीएमएस के 11 अन्य कैम्पसों में क्रमशः विस्तार हुआ।