Tuesday , May 21 2024

बड़े सपने देखो और उसे पूरा करने का प्रयास करो : शाश्वत द्विवेदी

छः दिनों में लगभग 80 हजार छात्रों ने ली जीवन मूल्यों की सीख

लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा कानपुर रोड ऑडिटोरियम में आयोजित किये जा रहे 7-दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव (आईसीएफएफ -2024) का छठे दिन शनिवार को लगभग 15,000 से अधिक छात्रों ने शिक्षात्मक बाल फिल्मों से प्रेरणा ली, जबकि बाल फिल्मोत्सव के छः दिनों में लखनऊ व आसपास के क्षेत्रों के विभिन्न विद्यालयों के लगभग 80 हजार छात्रों ने शिक्षात्मक बाल फिल्मों से जीवन मूल्यों की सीख ली। बच्चों के उत्साहवर्धन हेतु पधारे मिस्टर इण्डिया इण्टरनेशनल-2023 शाश्वत द्विवेदी एवं अभिनेता रूबल जैन, ईशान पुंजा एवं आरव शुक्ला ने बाल फिल्मोत्सव की रौनक में चार-चांद लगा दिये। इससे पहले, मुख्य अतिथि के रूप में पधारे वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रांशु मिश्रा ने दीप प्रज्वलित कर बाल फिल्मोत्सव के छठे दिन का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर अपने संबोधन में वरिष्ठ पत्रकार प्रांशु मिश्रा ने कहा कि बाल फिल्मोत्सव की प्रशंसा करते हुए कहा कि सीएमएस बच्चों की प्रतिभा को पहचान कर उसी के अनुरूप उनका सर्वांगीण विकास करता है। मिस्टर इण्डिया इण्टरनेशनल-2023 शाश्वत द्विवेदी ने फिल्म देखने पधारे छात्रों से कहा कि बड़े सपने देखो और उसे पूरा करने का प्रयास करो। अभिनेता ईशान पुंजा ने कहा कि स्कूल लाइफ जीवन का सर्वश्रेष्ठ समय होता है और इसी समय में अच्छे विचार व अच्छी बातें आगामी जीवन में अहम भूमिका निभाती है। बाल फिल्मोत्सव में बच्चों के उत्साहवर्धन हेतु पधारे फिल्म जगत से जुड़ी हस्तियों ने आज एक प्रेस कान्फ्रेन्स में पत्रकारों से मुलाकात की। फिल्म जगत से जुड़ी हस्तियों ने इस अवसर पर एक स्वर से कहा कि सी.एम.एस. ऐसा विद्यालय है जिसने बच्चों के चरित्र निर्माण के लिए अत्यन्त ही प्रशंसनीय अनूठा तरीका ढूँढ निकाला है। यह बाल फिल्मोत्सव निश्चित रूप से मानवता को विकास के पथ पर ले जायेगा। आई.सी.एफ.एफ.-2024 के फेस्टिवल डायरेक्टर श्री आर. के. सिंह ने बताया कि शैक्षिक बाल फिल्मों का यह दौर कल 21 अप्रैल को सम्पन्न हो जायेगा।