Thursday , July 25 2024

आप समर्पण दो, फुटबॉलर तो हम आपको बना ही देंगे : प्रशिक्षक अमित

प्रतियोगिताओं के अभाव में फुटबॉल का विकास संभव नहीं
आज के नन्हे फुटबॉलर कल के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी होंगे

वाराणसी : समर्पण सीखने की बुनियाद है। आप अपना समर्पण दो। विश्वास जानिए हम आपको फुटबॉलर बना ही देंगे लेकिन एक बात याद रखें एक अच्छा फुटबॉलर के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रतियोगिताओं में शामिल होना जरूरी है। जहां फुटबॉल की बारिकीयां परवान चढ़ती है। आज आवश्यकता है, वाराणसी में इंटरमीडिएट स्कूलों में ज्यादा से ज्यादा प्रतियोगिताएं और खिलाड़ियों को जोड़ा जाए तभी फुटबॉल हमारे देश में एक अच्छे मुकाम पर पहुंचेग। इसे हम तीन श्रेणियां में बांट सकते हैं। ए बी सी डिविजन। ए में कक्षा 11 से 12 तक के छात्र। बी में 9 से 10 तक के छात्र और सी में कक्षा 6 से 8 तक के छात्र। इन वर्गों में फुटबॉल के खिलाड़ियों को तरास कर हम उनके लिए एक अच्छा प्लेटफार्म दे सकते हैं। उपरोक्त बातें खिलाड़ियों को प्रशिक्षित करते हुए प्रशिक्षक अमित ने कहीं ।

यूपीएसए के द्वारा आयोजित फुटबाल प्रशिक्षण शिविर के पांचवें दिन प्रशिक्षको ने गहनी के खेल मैदान पर रविवार को फुटबॉल की तमाम बारीकियां से खिलाड़ियों को परिचित कराया। इस अवसर पर राजीव तिवारी जनरल मैनेजर इंडियन बैंक, रामावतार सिंह ब्रांच मैनेजर इंडियन बैंक, मुश्ताक अली अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर, डॉ शेखर मिश्रा, सत्यम सिंह, नवीन सिंह, निलेश सिंह, शरद सिंह, अनुराग सिंह, दिनेश नेगी, साकेत सिंह, मानसी अग्रवाल उपस्थित रहे।